Header Ads

Header ADS

Alone Shayari, Hum Tanha Hi Achchhe


Usey Pana Usey Khona Usi Ke Hijr Mein Rona,
Yahi Gar Ishq Hai To Hum Tanha Hi Achchhe Hain.
उसे पाना उसे खोना उसी के हिज्र में रोना,
यही गर इश्क है तो हम तन्हा ही अच्छे हैं।

Khwab Boye The Aur Akelapan Kata Hai,
Iss Mohabbat Mein Yaaron Bahut Ghata Hai.
ख्वाब बोये थे और अकेलापन काटा है,
इस मोहब्बत में यारों बहुत घाटा है।

Tum Se Bichhad Ke Kuchh Yoon Waqt Gujara,
Kabhi Zindagi Ko Tarse Kabhi Maut Ko Pukara.
तुम से बिछड़ के कुछ यूँ वक़्त गुज़ारा,
कभी ज़िंदगी को तरसे कभी मौत को पुकारा।

Ek Raat Kya Gujari Teri Tanhai Mein,
Gujar Gayin Hajaaron Barishein Aankhon Se.
एक रात क्या गुजरी तेरी तन्हाई में,
गुजर गयी हजारों बारिशें आँखों से।

Abhi Abhi Woh Mila Tha Hajaar Baatein Ki,
Abhi Abhi Woh Gaya Hai Magar Zamana Hua.
अभी अभी वो मिला था हजार बातें कीं,
अभी अभी वो गया है मगर ज़माना हुआ।

Rote Hain Tanha Dekh Kar Mujhko Woh Raaste,
Jin Pe Tere Bagair Main Gujra Kabhi Na Tha.
रोते हैं तनहा देख कर मुझको वो रास्ते,
जिन पे तेरे बग़ैर मैं गुजरा कभी न था।

Har Waqt Ka Hansna Tujhe Barbaad Na Kar De,
Tanhai Ke Lamhon Mein Kabhi Ro Bhi Liya Kar.
हर वक़्त का हंसना तुझे बर्बाद ना कर दे,
​तन्हाई के लम्हों में, कभी रो भी लिया कर।

Kitni Fikr Hai Kudrat Ko Meri Tanhayi Ki,
Jagte Rahte Hain Raat Bhar Sitare Mere Liye.
कितनी फ़िक्र है कुदरत को मेरी तन्हाई की,
जागते रहते हैं रात भर सितारे मेरे लिए।

Meri Tanhayian Karti Hain Jinhein Yaad Sadaa,
Unn Ko Bhi Meri Jarurat Ho Jaroori Toh Nahi.
​मेरी तन्हाइयां करती हैं ​जिन्हें याद सदा,
उन को भी मेरी ज़रुरत हो ज़रूरी तो नहीं।

Kaise Din Aaye Ke Tera Zikar Fasana Hua Hai,
Aise Lagta Hai Tujhe Dekhe Zamana Hua Hai.
कैसे दिन आये कि तेरा ज़िक्र फ़साना हुआ है,
ऐसे लगता है तुझे देखे ज़माना हुआ है।

Tere Saath Hone Tak Hi Mehsoos Hui Zindagi,
Na Tere Aane Se Pehle Na Tere Jaane Ke Baad.
तेरे साथ होने तक ही महसूस हुई जिंदगी,
न तेरे आने से पहले न तेरे जाने के बाद।

Aata Nahi Hai Jeena Uss Nadan Ke Bagair,
Kash Uss Shakhs Ne Marna Bhi Sikhaya Hota.
आता नहीं है जीना उस नादान के बगैर,
काश उस शख्स ने मरना भी सिखाया होता।

Tera Pehlu Tere Dil Ki Tarah Aabad Rahe,
Tujh Pe Gujre Na Qayamat Shab-e-Tanhayi Ki.
तेरा पहलू तेरे दिल की तरह आबाद रहे,
तुझपे गुज़रे न क़यामत शब-ए-तन्हाई की।
Powered by Blogger.